तुलसी जी की आरती | Tulsi Aarti Lyrics In Hindi | Tulsi Ji Ki Aarti PDF

आप सभी पाठको के लिए पेश है तुलसी जी की आरती हिंदी में (Tulsi Aarti In Hindi)। 

Tulsi Aarti In Hindi With PDF

आप तुलसी जी की आरती को ऑनलाइन पढ़ भी सकते है और साथ ही तुलसी जी की आरती pdf (Tulsi Ji Ki Aarti PDF) को अपने फ़ोन में डाउनलोड भी कर सकते है बिना इंटरनेट के पढ़ने के लिए।


Tulsi Aarti In Hindi

जय जय तुलसी माता, सबकी सुखदाता वर माता।
सब योगों के ऊपर, सब रोगों के ऊपर,
रुज से रक्षा करके भव त्राता।
जय जय तुलसी माता।

बहु पुत्री है श्यामा, सूर वल्ली है ग्राम्या,
विष्णु प्रिय जो तुमको सेवे, सो नर तर जाता।
जय जय तुलसी माता।

हरि के शीश विराजत त्रिभुवन से हो वंदित,
पतित जनों की तारिणि, तुम हो विख्याता।
जय जय तुलसी माता।

लेकर जन्म बिजन में आई दिव्य भवन में,
मानव लोक तुम्हीं से सुख सम्पत्ति पाता।
जय जय तुलसी माता।

हरि को तुम अति प्यारी श्याम वर्ण सुकुमारी,
प्रेम अजब है श्री हरि का तुम से नाता।
जय जय तुलसी माता।


Tulsi Ji Ki Aarti PDF

तुलसी आरती को बिना इंटरनेट के पढ़ने के लिए निचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करे और तुलसी जी की आरती pdf को अपने मोबाइल में डाउनलोड करे।

Click Here To Download


तो ये थी तुलसी जी की आरती हिंदी में अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आयी होंगी तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ ज़रूर शेयर करे।

Read

सूर्य देव जी की आरती | Surya Aarti In Hindi With PDF

सत्यनारायण जी की आरती | Satyanarayan Aarti In Hindi With PDF

संतोषी माता की आरती | Santoshi Mata Aarti in Hindi With PDF

राम जी की आरती | Shri Ram Aarti in Hindi With PDF

महाराजा अग्रसेन जी की आरती | Agrasen Aarti in Hindi With PDF

Post a Comment

Previous Post Next Post