सूर्य देव जी की आरती | Surya Aarti Lyrics In Hindi | Surya Aarti in Hindi PDF

आप सभी पाठको के लिए पेश है सूर्य देव जी की आरती हिंदी में (Surya Dev Aarti In Hindi)। 

Surya Aarti In Hindi With PDF

आप सूर्य देव जी की आरती को ऑनलाइन पढ़ भी सकते है और साथ ही सूर्य आरती pdf (Surya Aarti PDF) को अपने फ़ोन में डाउनलोड भी कर सकते है बिना इंटरनेट के पढ़ने के लिए।



Surya Aarti In Hindi

जय कश्यप-नन्दन, ॐ जय अदिति नन्दन।
त्रिभुवन-तिमिर-निकन्दन, भक्त-हृदय-चन्दन॥
जय कश्यप-नन्दन, ॐ जय अदिति नन्दन।
सप्त-अश्वरथ राजित, एक चक्रधारी।

दु:खहारी, सुखकारी, मानस-मल-हारी॥
जय कश्यप-नन्दन, ॐ जय अदिति नन्दन।
सुर-मुनि-भूसुर-वन्दित, विमल विभवशाली।
अघ-दल-दलन दिवाकर, दिव्य किरण माली॥

जय कश्यप-नन्दन, ॐ जय अदिति नन्दन।
सकल-सुकर्म-प्रसविता, सविता शुभकारी।
विश्व-विलोचन मोचन, भव-बन्धन भारी॥
जय कश्यप-नन्दन, ॐ जय अदिति नन्दन।

कमल-समूह विकासक, नाशक त्रय तापा।
सेवत साहज हरत अति मनसिज-संतापा॥
जय कश्यप-नन्दन, ॐ जय अदिति नन्दन।
नेत्र-व्याधि हर सुरवर, भू-पीड़ा-हारी।

वृष्टि विमोचन संतत, परहित व्रतधारी॥
जय कश्यप-नन्दन, ॐ जय अदिति नन्दन।
सूर्यदेव करुणाकर, अब करुणा कीजै।
हर अज्ञान-मोह सब, तत्त्वज्ञान दीजै॥

जय कश्यप-नन्दन, ॐ जय अदिति नन्दन।


Surya Aarti PDF

सूर्य आरती को बिना इंटरनेट के पढ़ने के लिए निचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करे और सूर्य आरती pdf (Surya Aarti PDF in Hindi) को अपने मोबाइल में डाउनलोड करे।

Click Here To Download

तो ये थी सूर्य देव जी की आरती हिंदी में अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आयी होंगी तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ ज़रूर शेयर करे।

Read

गायत्री माता की आरती | Gayatri Aarti in Hindi With PDF 

कृष्णा जी की आरती | Krishna Aarti in Hindi With PDF

गंगा जी की आरती | Ganga Aarti In Hindi With PDF

सरस्वती माता की आरती | Saraswati Aarti in Hindi With PDF

Post a Comment

Previous Post Next Post