Om Jai Shiv Omkara Lyrics in Hindi | शिवजी की आरती | Shiv Aarti PDF

यदि आप शिव जी की आरती पढ़ना चाहते है तो आप बिलकुल सही जगह पर आये है यहाँ आपको शिव आरती (Shiv aarti in hindi) मिलेगी। साथ ही आप शिव आरती pdf (Shiv aarti pdf) को अपने फ़ोन डाउनलोड भी कर सकते है। 

shiv ji ki aarti lyrics with pdf

इस आर्टिकल को ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करे और लोगो तक पहुचाये।



Shiv Aarti Lyrics in Hindi 

ओम जय शिव ओंकारा, स्वामी जय शिव ओंकारा। ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

एकानन चतुरानन पञ्चानन राजे। हंसासन गरूड़ासन वृषवाहन साजे॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

दो भुज चार चतुर्भुज दसभुज अति सोहे। त्रिगुण रूप निरखते त्रिभुवन जन मोहे॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

अक्षमाला वनमाला मुण्डमालाधारी। त्रिपुरारी कंसारी कर माला धारी॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

श्वेताम्बर पीताम्बर बाघम्बर अंगे। सनकादिक गरुड़ादिक भूतादिक संगे॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

कर के मध्य कमण्डलु चक्र त्रिशूलधारी। सुखकारी दुखहारी जगपालनकारी॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

ब्रह्मा विष्णु सदाशिव जानत अविवेका। मधु-कैटभ दो‌उ मारे, सुर भयहीन करे॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

लक्ष्मी, सावित्री पार्वती संगा। पार्वती अर्द्धांगी, शिवलहरी गंगा॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

पर्वत सोहैं पार्वती, शंकर कैलासा। भांग धतूर का भोजन, भस्मी में वासा॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

जटा में गंग बहत है, गल मुण्डन माला। शेष नाग लिपटावत, ओढ़त मृगछाला॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

काशी में विराजे विश्वनाथ, नन्दी ब्रह्मचारी। नित उठ दर्शन पावत, महिमा अति भारी॥
ओम जय शिव ओंकारा॥

त्रिगुणस्वामी जी की आरति जो कोइ नर गावे। कहत शिवानन्द स्वामी, मनवान्छित फल पावे॥
ओम जय शिव ओंकारा॥


Shiv Aarti PDF

शिव आरती pdf (Shiv aarti pdf in hindi) को अपने मोबाइल में डाउनलोड करने के लिए निचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करे और शिव जी की आरती को बिना इंटरनेट के पढ़े । 

Click Here To Download

Shiv Aarti Image Lyrics

Shiv Aarti Image Lyrics

Download in HD

यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमे कमेंट कर के ज़रूर बताएं और shankar ji ki aarti pdf को अपने फ़ोन में डाउनलोड करे

Read

हनुमान जी की आरती | Hanuman Aarti In Hindi With PDF

खटु श्याम जी की आरती | Khatu Shyam Aarti in Hindi With PDF

शीतला माता आरती | Sheetla Mata Aarti In Hindi WIth PDF

अहोई माता की आरती | Ahoi Mata Aarti in Hindi With PDF

तुलसी जी की आरती | Tulsi Aarti In Hindi With PDF

Post a Comment

Previous Post Next Post